महात्मा गांधी के अनुसार स्वराज क्या है?

महात्मा गांधी के अनुसार स्वराज क्या है – नमस्कार दोस्तों! स्वागत है आपका eBuzzPro.com Hindi ब्लॉग में. और आज के इस पोस्ट के माध्यम से हम जानेंगे की “Mahatma Gandhi Ke Anusar Swaraj Kya Hai”? हालाँकि यह सवाल पूर्ण तरीके से इतिहास से जुड़ा हुआ है.

तो ऐसे में आपने शायद गूगल असिस्टेंट से पुछा होगा की “ओके गूगल महात्मा गांधी के अनुसार स्वराज क्या है”? तो जो जोवाब आपको प्राप्त होगा. वो निचे मैंने आपको उपलब्ध करवा दिया है.

How Hindi, What, क्या, कैसे, क्यों

महात्मा गांधी के अनुसार स्वराज क्या है?

महात्मा गांधी के अनुसार स्वराज की परिभाषा “जनप्रतिनिधियों द्वारा संचालित ऐसी व्यवस्था जो जन-आवश्यकताओं तथा जन-आकांक्षाओं के अनुरूप हो.” वस्तुत: गांधीजी का स्वराज का विचार ब्रिटेन के राजनैतिक, सामाजिक, आर्थिक, ब्यूरोक्रैटिक, कानूनी, सैनिक एवं शैक्षणिक संस्थाओं का बहिष्कार करने का आन्दोलन था” है.



निष्कर्ष – उम्मीद करता हूँ की आपको यह “महात्मा गांधी के अनुसार स्वराज क्या है – Mahatma Gandhi Ke Anusar Swaraj Kya Hai” का पोस्ट पसंद आया होगा. अच्चा लगे तो कमेंट करे और पोस्ट को शेयर जरुर लारे.

Leave a Comment

Copy link
Powered by Social Snap